आइए अपने आईक्यू (IQ) का परीक्षण करें। Let's test your IQ

चित्र
इन प्रश्नों में दो या अधिक वस्तुओं के परस्पर सम्बन्ध पर विचार किया जाता है। परस्पर सम्बन्ध पर आधारित ये प्रश्न निम्नलिखित प्रकार से पूछे गए हैं- शब्द-सम्बन्ध आधारित प्रथम प्रकार :- प्रथम प्रकार के प्रश्न में दो शब्द दिए जाते हैं,  जिनमें कोई सम्बन्ध नही होता है। प्रश्न में एक तीसरा शब्द भी दिया रहता है, जिसके लिए ऐसा चौथा शब्द ज्ञात करना होता है, जो तीसरे शब्द के साथ वही सम्बन्ध रखता हो जो प्रथम दो शब्दों में जैसे प्रकाश का अंधकार के साथ वही सम्बन्ध है जो विद्वान  के साथ? (a) चालाक (b) होनहार (c) मूर्ख (d) वाचाल उत्तर-(c) उपर्युक्त उदाहरण में प्रकाश का अंधकार के साथ  विपरीत सम्बन्ध है, अतः विद्वान के विपरीत अर्थ वाला शब्द ही उपयुक्त विकल्प होगा। स्पष्ट है कि विद्वान का विपरीतार्थक सही उत्तर होगा।

Google Pay ने शुरू की नई Service, यूजर को Card से payment में हो जाएगी आसानी

Google Pay ने शुरू की नई Service, यूजर को Card से payment में हो जाएगी आसानी

Google की तरफ से सोमवार को यूजर्स की सुविधा के लिए NFC बेस्ड टोकनाइजेशन सर्विस शुरू करने का ऐलान कर दिया गया है। कंपनी ने इस सर्विस को अपने सभी प्लेटफॉर्म पर रोलआउट कर दिया है। Google Pay टोकनाइजेशन सर्विस के लिए Visa और बैंकिंग पार्टनर के साथ मिलकर काम कर रहा है। 

NFC क्या है और कैसे काम करता है।

NFC लेनदेन के लिए टोकन-आधारित भुगतान।  ... व्यापारी को ग्राहक से टोकन और वन-टाइम-सिक्योरिटी कोड प्राप्त होता है और भुगतान नेटवर्क पर क्रेडिट कार्ड की जानकारी (वास्तविक डेटा) में अनुवादित मूल्य का अनुवाद किया जाता है, जिसमें व्यक्ति और लेनदेन दोनों की जानकारी होती है।


नई सर्विस से होगी काफी सुविधा 


अगर साधारण शब्दों में कहें, तो Google Pay यूजर्स अब बिना स्वैप करके अपने डेबिट और क्रेडिट कार्ड से पेमेंट कर पाएंगे। यूजर्स को अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड की डिटेल्स को फिजिकली शेयर नहीं करना होगा। कार्ड से जुड़े मोबाइल नंबर पर अटैच्ड सुरक्षित डिजिटल टोकन के जरिए पेमेंट किया जा सकेगा। कोरोना के दौर में Google Pay की यह सर्विस यूजर्स के लिए काफी मददगार साबित हो सकती है। इसके अलावा Google Pay यूजर्स टैप टू पे (Tap-to-pay) फीचर का इस्तेमाल करके नियर फील्ड कम्यूनिकेशन (NFC) इनेबल्ड प्वाइंट ऑफ सेल्स (POS) टर्मिनल पर पेमेंट कर पाएंगे। साथ ही ऑनलाइन पेमेंट की भी सुविधा होगी।

POS क्या है और कैसे काम करता है।

एक पॉइंट ऑफ़ सेल (POS) टर्मिनल एक कैश रजिस्टर के लिए कम्प्यूटरीकृत प्रतिस्थापन है जो क्रेडिट और डेबिट कार्ड को प्रोसेस कर सकता है।  PoS टर्मिनल का उपयोग करके लेन-देन को पूरा करने के लिए ग्राहक को एक कार्ड पिन दर्ज करना होगा।


कौन इस सर्विस का कर पाएगा इस्तेमाल  


Google का नया पेमेंट फीचर मौजूदा वक्त में केवल Axis और SBI कार्ड होल्डर के लिए उपलब्ध रहेगा। हालांकि जल्द ही Google Pay का नया फीचर देश के बाकी बैंकों के डेबिट और क्रेडिट कार्ड के लिए उपलब्ध हो जाएगा। 


कैसे कर पाएंगे इस्तेमाल 


Google की सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को स्मार्टफोन पर टैप एंड पे फीचर को इनेबल करना होगा। इसके लिए यूजर्स को अपनी कार्ड डिटेल्स डालकर वन टाइम सेटअप करना होगा. यूजर्स को Google ऐप पर कार्ड एड करने के​ लिए बैंक की ओर से ओटीपी आएगा। इस तरह रजिस्ट्रेशन के बाद फीचर को NFC इनेबल्ड टर्मिनल्स पर पेमेंट करने ​के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

ऑफलाइन मोड में भी उपलब्ध होगी यह सर्विस 


 Google Pay बिजनेस हेड Sajith Sivanandan ने कहा कि हमें उम्मीद है कि टोकनाइजेशन फीचर यूजर्स को सुरक्षित लेनदेन करने के लिए प्रोत्साहित करेगा। साथ ही इस सर्विस का विस्तार ऑनलाइन के साथ ही ऑफलाइन में भी किया जाएगा। वैसे मौजूदा वक्त में यह फीचर केवल ऑनलाइन पेमेंट के लिए उपलब्ध है। कंपनी की मानें, तो स्मार्टफोन के टैप एंड पे फीचर में यूजर्स को एक बार अपने कार्ड की डिटेल रजिस्टर्ड करना होगी। इसके बाद ओटीपी के जरिए पेमेंट हो जाएगा। कंपनी के मुताबिक इससे बैंक फ्रॉड पर भी कुछ हद तक रोक लगाई जा सकेगी। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Google Lens छात्रों (Students) के लिए होमवर्क (Homework) में मदद करने के लिए गणित (Maths) के लिये नया फीचर्स लाया है।

ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं जाने पूरा डिटेल्स।How to make money online

फ़ूड डिलीवरी कंपनी Swiggy और Zomato को Google ने जारी किया नोटिस । Google Play Store के नियमों का उल्लंघन (Violation) किया गया

banner