आइए अपने आईक्यू (IQ) का परीक्षण करें। Let's test your IQ

चित्र
इन प्रश्नों में दो या अधिक वस्तुओं के परस्पर सम्बन्ध पर विचार किया जाता है। परस्पर सम्बन्ध पर आधारित ये प्रश्न निम्नलिखित प्रकार से पूछे गए हैं- शब्द-सम्बन्ध आधारित प्रथम प्रकार :- प्रथम प्रकार के प्रश्न में दो शब्द दिए जाते हैं,  जिनमें कोई सम्बन्ध नही होता है। प्रश्न में एक तीसरा शब्द भी दिया रहता है, जिसके लिए ऐसा चौथा शब्द ज्ञात करना होता है, जो तीसरे शब्द के साथ वही सम्बन्ध रखता हो जो प्रथम दो शब्दों में जैसे प्रकाश का अंधकार के साथ वही सम्बन्ध है जो विद्वान  के साथ? (a) चालाक (b) होनहार (c) मूर्ख (d) वाचाल उत्तर-(c) उपर्युक्त उदाहरण में प्रकाश का अंधकार के साथ  विपरीत सम्बन्ध है, अतः विद्वान के विपरीत अर्थ वाला शब्द ही उपयुक्त विकल्प होगा। स्पष्ट है कि विद्वान का विपरीतार्थक सही उत्तर होगा।

आज से बदल गया SBI ATM से 10 हजार रुपये से ज्यादा कैश निकालने का नियम, जानिए इसके बारे में सबकुछ

आज से बदल गया SBI ATM से 10 हजार रुपये से ज्यादा कैश निकालने का नियम, जानिए इसके बारे में सबकुछ

रात के समय में एटीएम फ्रॉड (ATM Fraud) से बचने के लिए देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) अपने ग्राहकों को ओटीपी आधारित एटीएम विड्रॉल (SBI OTP Based ATM Withdrawal) की सुविधा 1 जनवरी 2020 से शुरू की थी. इसके तहत रात को 8 बजे से लेकर सुबह 8 बजे तक एसबीआई एटीएम (SBI ATM) से 10,000 रुपये और इससे ज्यादा कैश निकालते समय ओटीपी की जरूरत होती है. अब, बैंक ने 15 सितंबर, 2020 से देश के सभी एसबीआई एटीएम में दिन भर में 10,000 रुपये और उससे अधिक निकासी के लिए ओटीपी बेस्ड कैश विड्रॉल का विस्तार किया है.

चौबीसों घंटे होगी OTP की जरूरत

24x7 ओटीपी-आधारित नकदी निकासी सुविधा की शुरुआत के साथ, एसबीआई ने एटीएम नकदी निकासी में सुरक्षा स्तर को और मजबूत किया है.
दिन भर इस सुविधा को लागू करने से एसबीआई डेबिट कार्डधारक धोखेबाजों, अनधिकृत निकासी, कार्ड स्किमिंग, कार्ड क्लोनिंग और अन्य जोखिम से बच सकेंगे.

सिर्फ SBI एटीएम में मिलेगी ये सुविधा

ओटीपी आधारित नकद निकासी की सुविधा केवल एसबीआई एटीएम में उपलब्ध है क्योंकि गैर-एसबीआई एटीएम में नेशनल फाइनेंशियल स्विच (एनएफएस) में विकसित नहीं की गई है. OTP एक सिस्टम-जेनरेटेड न्यूमेरिक स्ट्रिंग है, जो उपयोगकर्ता को एकल लेनदेन के लिए प्रमाणित करता है. एक बार जब ग्राहक एटीएम में विड्रॉल रकम दर्ज कर लेते हैं तो उसके बाद एटीएम स्क्रीन ओटीपी मांगेगी, जहां आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त किए गए ओटीपी को दर्ज करना होगा.

एसबीआई के मैनेजिंग डायरेक्टर सीएस शेट्टी (रिटेल एंड डिजिटल बैंकिंग) ने कहा, 'एसबीआई तकनीकी सुधार और सुरक्षा स्तर में वृद्धि के माध्यम से अपने ग्राहकों को सुविधा और सुरक्षा सुनिश्चित करने में हमेशा सबसे आगे रहा है. हमें विश्वास है कि 24x7 ओटीपी प्रमाणित एटीएम निकासी से एसबीआई के ग्राहकों के पास सुरक्षित और जोखिम रहित नकदी निकासी का अनुभव होगा.'

कैसे काम करेगी एसबीआई की यह सुविधा?

>> SBI ATM से कैश निकालने के लिए ग्राहकों को पिन नंबर के साथ एक ओटीपी भी डालना होगा. यह ओटीपी उनके द्वारा SBI में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा.
>> SBI की ओटीपी बेस्ड एटीएम विड्रॉल सुविधा केवल 10 हजार रुपये से अधिक की निकासी पर ही उपलब्ध होगा.
>> SBI ने इस सुविधा को इसलिए पेश किया है ताकि एसबीआई डेबिट कार्ड होल्डर्स को किसी भी संभावित स्किमिंग या कार्ड क्लोनिंग से बचाया जा सके. इस प्रकार वो फ्रॉड से बच सकेंगे.

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं जाने पूरा डिटेल्स।How to make money online

Google Lens छात्रों (Students) के लिए होमवर्क (Homework) में मदद करने के लिए गणित (Maths) के लिये नया फीचर्स लाया है।

फ़ूड डिलीवरी कंपनी Swiggy और Zomato को Google ने जारी किया नोटिस । Google Play Store के नियमों का उल्लंघन (Violation) किया गया

banner